मार्केटिंग के सस्ते तरीके - भाग 2

मार्केटिंग के सस्ते तरीके - भाग 2

मार्केटिंग एक मॅनेजमेंट प्रक्रिया है जिस से आपके गूड्स या सर्विसेस एक कन्सेप्ट से प्रोडक्ट बन कर ग्राहकों तक पहुचाना है।

मार्केटिंग के करीब 40 तेज़ तर्रार तरीके जानिए। इनमें से कुछ तरीके भी आपके व्यवसाय को बढ़ाने में अच्छा योगदान दे सकते हैं। 40 तरीको में से 10 तरीके आपने पिछले ब्लॉग मे देखे। उसके आगे के तरीके भाग - 2  में दिए गये है। वह आप पढ सकते... और उन तरीको का उपयोग अपने बिजनेस में कर सकते है।

1. यदि आप अपने बिज़नेस से जुड़े आंकड़े (डेटा), सांख्यिकी (स्टैटेटिक्स) या रोचक जानकारी पाते हैं तो उसे इकट्ठा कर लें।

2. एक नोटबुक खरीदें और उसमें मार्केटिंग आइडिया लिखना शुरु कर दें।

3. अपने प्रचार और मार्केटिंग के उपायों से निगेटिव शब्दों को हटा दें। इनकी जगह पॉज़िटिव शब्द लिखें।


4. अपने दफ़्तर, दुकान या कारोबार के स्थान पर ग्राहकों के सुझाव के लिए एक किताब रखें, या वेबसाइट पर कस्टमर लॉग रखें, ताकि ग्राहक अपनी शिकायतें या सुझाव दर्ज़ कर सकें।

5. गिफ्ट सर्टिफिकेट बेचें।

6. स्थानीय दुकानों, रेस्टोरेंट, नाई की दुकान और जहां भी इजाजत मिल सके वहां अपने कार्ड या ब्रोशर्स दें या आपका पोस्टर चिपकाये ।

7. अपने पुराने स्कूल के लड़के-लड़कियों से मिले और उन्हें अपने व्यवसाय और नए विकास  के बारे में बताएं।

8. जब किसी ग्राहक को डाक भेज रहे हैं तो हाथ से लिख कर भेजें।


9. बड़ी संख्या में मेल या पैंपलेट भेजने से पहले छोटे ग्राहकों को मेल या पैंपलेट भेजकर असर जांच लें।

10. एक मार्केटिंग प्लान लिखें जिसमें आपका लक्ष्य और उसे पाने का तरीका हो। इसके लिए एक शेड्यूल या टाइम टेबल तैयार करें।

हम अगली बार अगले मार्केटिंग सस्ते और तरीके आपको बताएंगे। तब तक स्नेहलनीती हिंदी ब्लॉग और स्नेहलनीती हिंदी युट्यूब चॅनेल देखना न भूले।